Home » कर्पूरी ठाकुर जी भारतीय समाज और राजनीति

कर्पूरी ठाकुर जी भारतीय समाज और राजनीति

by Samta Marg
0 comment 87 views

कर्पूरी ठाकुर जी(24 जनवरी,1924–17 फरवरी,1988) भारतीय समाज और राजनीति के एक दुर्लभ रत्न थे. सरकार ने उन्हें (मरणोपरांत) ‘भारत-रत्न’ घोषित किया है..बहुत विलम्ब से हुआ एक अच्छा फैसला! इतने विलम्ब से हुए फैसले के पीछे जो कारण हो सकते हैं, इस चुनाव वर्ष में उनका अनुमान लगाना किसी के लिए भी कठिन नहीं! 

विलम्ब के लिए 1988 से अब तक की सभी सरकारें दोषी हैं. फिर भी उनकी सौवीं जयंती से एक दिन पहले उन्हें सम्मान देने का ऐलान अच्छा लगा.

इतिहास कई बार शासकों, समाजों और लोगों को आईना भी दिखाता है. जिन सामाजिक-राजनीतिक शक्तियों के नुमायंदों ने आज राजनीतिक मजबूरी के चलते कर्पूरी जी को सम्मानित करने का फैसला किया, उन्हीं शक्ति-समूहों ने सन् 1978 में आरक्षण कानून लाने के कर्पूरी सरकार के ऐतिहासिक कदम के चलते सडकों पर आकर ठाकुर जी को खूब गालियां दी थीं. ऐसी-ऐसी गालियां कि मैं यहां लिख भी नहीं सकता! 

समाज और इतिहास में ऐसे दिखावे होते रहते हैं. आये दिन दलित-पिछडे और अन्य सबाल्टर्न समूहों के राजनीतिक और बौद्धिक नुमायंदों को अपमानित और उत्पीडित किया जाता है तो कभी उनके कुछ बडे नेताओं को सम्मानित करने की मजबूरी भी होती है. समाज के बदल रहे स्वरूप और समीकरणों ने कर्पूरी जी जैसे गरीबों, दलितों और पिछडों के नेता को आज देश का सर्वोच्च सम्मान पाने का अवसर पैदा किया. 

हमारे जैसे समाज में शासकीय या संस्थागत स्तर के ज्यादातर ‘सम्मान’ और ‘पुरस्कार’ जिस तरह तय होते हैं, उससे इन सम्मानों-पुरस्कारों की गरिमा, गंभीरता और स्तर में बहुत गिरावट है.  –और यह सिर्फ आज की बात नहीं, पहले से ही यह होता आ रहा है. अपने मुल्क में ऐसे-ऐसे भी ‘भारत-रत्न’ हैं, जो अपने लिए हमेशा ‘रत्न’ बटोरने में जुटे रहते हैं; इसके लिए उन्हें चाहे जो भी करना पडे! 

—लेकिन श्रद्धेय कर्पूरी जी सचमुच भारत के रत्न थे! उन्हें सम्मानित करने से ‘भारत रत्न’ जैसे सम्मान को उसकी अपेक्षित गरिमा मिली है!

उर्मिलेश

You may also like

Leave a Comment

हमारे बारे में

वेब पोर्टल समता मार्ग  एक पत्रकारीय उद्यम जरूर है, पर प्रचलित या पेशेवर अर्थ में नहीं। यह राजनीतिक-सामाजिक कार्यकर्ताओं के एक समूह का प्रयास है।

फ़ीचर पोस्ट

Newsletter

Subscribe our newsletter for latest news. Let's stay updated!