Home » ‘हिन्द स्वराज’-एक अध्ययन! : कांति शाह

‘हिन्द स्वराज’-एक अध्ययन! : कांति शाह

by Samta Marg
0 comment 136 views

‘हिन्द स्वराज’-एक अध्ययन!
कांति शाह

(पेज43)
‘चेतावनी के सयाने सुर’का शेषांश

‘….फ़्रांस का बौदलेर1851में लिख गया था:

“जिससे हम जीने की इच्छा रखते हैं, उसी चीज से हमारा विनाश होगा।यंत्रों का यह राक्षस, यह यंत्रासुर हमारा अमेरिकीकरण कर देगा।

तथकथित प्रगति हमारी आध्यात्मिकता को मटियामेट कर देगी। यह सर्वनाश, सबसे मुख्य तो ह्रदय की नीचता में दिखाई देगा।

हमारी बची-खुची सामाजिकता, आंधी की तरह की इस पाशविकता का शायद ही मुकाबला कर सकेगी।”

थोड़े वर्षो बाद टॉल्सटॉय ने लिखा: “भांति-भांति की सुख सुविधाएं आज हमें चक्रव्यूह में डाल देती हैं।एक-एक व्यक्ति उसके लाभ बटोरने के लिए लालायित है।

जब भौतिक सुख सुविधाओं के पीछे अंधी दौड़ चलती है, तब जीवन को समझना, अपने अस्तित्व के बारे में सोचना, ऐसी अत्यंत महत्त्व की बातों की बिलकुल उपेक्षा होती है।

जीवन की गहराई में डुबकी लगाकर सच्चा आनंद खोजने की, किसी को पड़ी नहीं है।सभ्यता के नाम पर मात्र गुलछर्रे उड़ाने में ही सबको रस है।”

आधुनिक सभ्यता की ऐसी ही सख्त टीका थोरो ने भी की:

“यह दुनिया आज एक बाजार बन गई है।कैसी अनंत दौड़ धूप और हाय तौबा!क्षण भर की भी फुरसत नहीं।

बस काम, काम और काम!सभी जगह व्यापार! सभी जगह बाजार!एक समान बाजारू रगड़पट्टी की इस मनोवृत्ति को मैं कविता विरुद्ध,दर्शन विरुद्ध और खुद जीवन के विरुद्ध, बड़े से बड़ा अपराध मानता हूँ।”

इस पृष्ठभूमि में हम गांधी की, आधुनिक सुधार की समीक्षा देखें।वह समीक्षा अत्यंत तलस्पर्शी है और सर्वग्राही है।

गांधी इस सभ्यता के रोग के मूल को पकड़ पाए हैं तथा उसके मूल में रही भौतिकवादी विचारधारा का ठीक विश्लेषण करके उसका अनिष्टकारक स्वरूप स्पष्ट किया है।

नूतन नैतिक नवोत्थान की अनिवार्यता दर्शाना गांधी के हिस्से में आया है।गांधी कोई विद्वान या शास्त्री नहीं थे।उनकी प्रस्तुति बिलकुल सादगीपूर्ण और सरल है।परंतु यह सरलता ही असरकारक तथा हृदयग्राही है। (जारी….)

 

Also Read :

हिन्द स्वराज’-एक अध्ययन!

You may also like

Leave a Comment

हमारे बारे में

वेब पोर्टल समता मार्ग  एक पत्रकारीय उद्यम जरूर है, पर प्रचलित या पेशेवर अर्थ में नहीं। यह राजनीतिक-सामाजिक कार्यकर्ताओं के एक समूह का प्रयास है।

फ़ीचर पोस्ट

Newsletter

Subscribe our newsletter for latest news. Let's stay updated!