Home » भस्मासुर बने नरेंद्र मोदी: अपनी ही भारतीय जनता पार्टी के

भस्मासुर बने नरेंद्र मोदी: अपनी ही भारतीय जनता पार्टी के

by Samta Marg
0 comment 171 views

नरेंद्र मोदी अपनी ही भारतीय जनता पार्टी के भस्मासुर बन चुके हैं।

इन्हें भस्मासुर बनाने में सबसे बड़ा योगदान आरएसएस के सरसंघचालक मोहन भागवत का है जिन्होंने आत्ममुग्ध मोदीजी के राष्ट्र विरोधी,

संविधान विरोधी और लोकतंत्र विरोधी तमाम कुकर्मों में से एक भी कुकर्म की आजतक कभी भी भर्त्सना नहीं की है।

बड़े बड़े दैत्याकार भ्रष्टाचारियों, व्यभिचारियों और देशद्रोहियों के लिए भाजपा के दरवाजे खोलकर उन्हें सत्ता के महत्वपूर्ण पदों

पर बिठालने में मोदीजी ने कोई भी कसर बाकी नहीं रखी है।

लेकिन मोहन भागवत इससे भी पीड़ित नहीं हुए।

हिन्दूराष्ट्रवादी विचारधारा के संघी भाजपाई आचरण ने हिंदुत्व की विवेकानंदीय विचारधारा के मुंह पर कालिख पोतकर,

दुनिया की महफ़िल में,भारत की बेनज़ीर सर्वसमावेशी छवि को शर्मसार करके रख दिया है।

भारत के पांच राज्यों में चल रहे चुनावी महासमर में बह रही भाजपा विरोधी हवा का संदेश भी यही है

कि भारत लोकतंत्र और संविधान का चीरहरण करने वाले भस्मासुरों से बाज आ चुका है।

यदि परिणाम भी ऐसे ही आए, तो भी, मुझे लगता है कि दस सालों में भारत को हुए इन नुकसानों की भरपाई करने में कई दशब्दियां लग जाएंगी,

वो भी तब,जब नए सत्ताधीश अपने आचरण से साबित करें कि स्वतंत्रता आंदोलन की विचारधारा ही उनकी सत्ता का मुख्य स्वर होगा।


बकौल गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर:-

      -- विनोद कोचर

You may also like

Leave a Comment

हमारे बारे में

वेब पोर्टल समता मार्ग  एक पत्रकारीय उद्यम जरूर है, पर प्रचलित या पेशेवर अर्थ में नहीं। यह राजनीतिक-सामाजिक कार्यकर्ताओं के एक समूह का प्रयास है।

फ़ीचर पोस्ट

Newsletter

Subscribe our newsletter for latest news. Let's stay updated!