Home दशा-दिशा खेती-किसानी

खेती-किसानी

सरकारी निकम्मेपन के कारण खाद की कमी से परेशान किसान

— रवीन्द्र गोयल — गेहूं, सरसों, चना, मसूर, आलू, प्याज और अन्य रबी फसलों की बुवाई शुरू होनेवाली है। सितंबर के बाद से हुई अतिरिक्त...

जेपी व लोहिया की विरासत का वाहक बनता किसान आंदोलन

— डॉ सुनीलम — कल समाजवादी चिंतक और भारतीय समाजवादी आंदोलन के प्रणेता डॉ.राममनोहर लोहिया की 54वीं पुण्यतिथि थी। परसों 11 अक्टूबर को लोकनायक जयप्रकाश...

जब राज्य-पोषित हिंसा हो मुकाबिल

— राजू पाण्डेय — लखीमपुर खीरी की घटना एक चेतावनी है- हमारे लोकतंत्र का स्वास्थ्य अच्छा नहीं है। श्री अजय कुमार मिश्र जिनके हिंसा भड़काने...

प्रधानमंत्री को लिखे संयुक्त किसान मोर्चा के पत्र में क्या है

दिल्ली की सीमाओं पर किसानों को बैठे छह माह हो गए। पांच दिन पहले, 21 मई को, संयुक्त किसान मोर्चा ने प्रधानमंत्री को पत्र...

बिहार के किसान का अनुभव, जहां मंडी नहीं है

- उमेश कुमार राय - मुजफ्फरपुर (बिहार) के 45 वर्षीय राजीव कुमार सिंह ने महामारी के दौरान अपने साढ़े पांच एकड़ खेत में लगभग सात...

यह जमीन बचाने की लड़ाई है

– सुनीलम –   मिट्टी सत्याग्रह यात्रा 30 मार्च को दांडी से शुरू हुई थी। नमक सत्याग्रह स्थल, सरदार पटेल के निवास बारदोली, किसान आंदोलन स्थल,साबरमती...

LATEST NEWS

MUST READ