Home Tags Gandhi

Tag: Gandhi

देश-विदेश में अहिंसा का संदेश फैलाने में जुटा आचार्यकुल

19 अक्टूबर। संत विनोबा भावे द्वारा 8 मार्च 1968 में स्थापित आचार्यकुल की भूमिका बाबा के जीवनकाल में बहुत महत्त्वपूर्ण रही। भूदान आंदोलन में...

उत्तर-स्वराज्य और गांधी

— श्रीभगवान सिंह — भारत के लिए जिस स्वराज्य का सपना गाँधी देख रहे थे, वह केवल ब्रिटिश पराधीनता से स्वाधीन होने तक सीमित नहीं...

मेरे स्मृति-पटल पर लोहिया – यू.आर. अनंतमूर्ति

डॉ. राममनोहर लोहिया एवं मानवेन्द्र नाथ राय मेरी दृष्टि में भारत के सर्वाधिक मौलिक चिंतक हैं। शिवमोगा के रेलवे स्टेशन पर मैंने लोहिया के प्रथम...

गांधी, आंबेडकर और दलित

— नंदकिशोर आचार्य — दलित वर्ग के प्रति महात्मा गांधी और बाबासाहब आंबेडकर की नीति को लेकर काफी अरसे से एक अनावश्यक और निरर्थक बहस...

पूर्ण प्रजातंत्र की गांधी की परिकल्पना

— राजू पाण्डेय — सामाजिक समता की स्थापना के लिए विकेन्द्रीकृत शासन व्यवस्था को गांधीजी आवश्यक मानते थे। उनके अनुसार ऐसा ही विकेंद्रीकरण देश के...

विकास की प्रचलित अवधारणा पर पुनर्विचार करना होगा

— राजू पाण्डेय — हम सब विकास के जिस मॉडल को आदर्श मानते हैं वह मनुष्य विरुद्ध प्रकृति के नैरेटिव पर आधारित है। यही कारण...

जी हाँ, हम अंधभक्त हैं ; लोहिया और गांधी ; ...

—प्रोफ़ेसर राजकुमार जैन — (दूसरी किस्त) ऐसी ही एक और घटना विश्वयुद्ध के दौरान हुई। गांधीजी का ऑल इंडिया रेडियो पर एक बयान प्रसारित किया गया...

गांधी बूढ़े हुए या जवान

— अरुण कुमार त्रिपाठी — अपनी 152वीं जयंती पर महात्मा गांधी बूढ़े होते दिख रहे हैं या जवान? चूंकि हमने गांधी की बूढ़ी छवियां ही...

जी हाँ, हम अंधभक्‍त हैं, क्‍योंकि हम वस्‍त्र की तरह विचार...

(पहली किस्त) — प्रोफ़ेसर राजकुमार जैन — फ़िलहाल मुल्‍क की पहली कतार के बुद्धिजीवी किसान नेता, स्‍वराज पार्टी ऑफ इंडिया नामक पार्टी के जन्‍मदाता जिनकी शीरे...

आज सबसे प्रासंगिक कुछ है तो गांधी का सत्याग्रह

— कुमार शुभमूर्ति — आनेवाली पीढ़ियां मुश्किल से यह विश्वास कर पाएंगी कि इसके जैसा मांस और खून का बना कोई आदमी इस पृथ्वी पर...

चर्चित पोस्ट

लोकप्रिय पोस्ट