Home Tags Jaishankar Prasad

Tag: Jaishankar Prasad

जयशंकर प्रसाद की कविता

आत्‍मकथ्‍य मधुप गुन-गुनाकर कह जाता कौन कहानी अपनी यह, मुरझाकर गिर रहीं पत्तियाँ देखो कितनी आज घनी। इस गंभीर अनंत-नीलिमा में असंख्‍य जीवन-इतिहास यह लो, करते ही रहते...

चर्चित पोस्ट

लोकप्रिय पोस्ट