Home » रिक्त पदों पर भर्ती के लिए लखनऊ में धरना जारी

रिक्त पदों पर भर्ती के लिए लखनऊ में धरना जारी

by Rajendra Rajan
0 comment 22 views

12 जुलाई। 23 दिन से युवा लखनऊ शिक्षा निदेशालय में अपनी मांगों को लेकर धरना दे रहे हैं। धरना दे रहे युवाओं की मांग है कि 1,37,000 पदों पर शिक्षक भर्ती के लिए सुप्रीम कोर्ट ने दो चरणों में प्रक्रिया पूरी करने का आदेश दिया था, तो पहले चरण में 68,500 पदों में 22,500 पद रिक्त रह गए थे। नियमानुसार इन पदों को अगले चरण के 69,000 पदों में शामिल किया जाए। ताकि सरकार के सभी मानकों को पूरा कर रहे युवाओं को इन पदों पर सेवा देना का मौका मिल सके।

यूथ फॉर स्वराज उत्तर प्रदेश के संयोजक पुष्कर पाल ने बताया कि हमारा संगठन पहले दिन से इन अभ्यर्थियों के साथ है, आज शिक्षा निदेशालय के सामने बैठे हजारों अभ्यर्थी ‘योगी जी हम योग्य हैं’ का नारा लगा रहे हैं। युवाओं का यह नारा योगी जी को उनके उन शब्दों की याद दिला रहा है जब उन्होंने कहा था कि राज्य सरकार को योग्य युवा नहीं मिल रहे हैं।

योगी सरकार तानशाही रवैया अपना रही है, आज जब कुछ अभ्यर्थी आंदोलन में शामिल होने आ रहे थे तो कुछ अभ्यर्थियों को बीच में ही रोक दिया, कुछ को बस में बैठकर कहीं और छोड़ दिया।

यूथ फॉर स्वराज के एम्प्लॉयमेंट फ्रंट के संयोजक अंकित त्यागी ने बताया कि राज्य में लाखों पद शिक्षकों के खाली हैं, ऐसे में योग्य युवा मिलने के बावजूद उन पदों को रिक्त रखना, शिक्षा के प्रति सरकार की अरुचि को दर्शाता है। स्वयंसेवी संगठन ASER की रिपोर्ट के अनुसार प्रधानमंत्री के लोकसभा क्षेत्र (वाराणसी) में कक्षा 3 के 46 फीसद बच्चों को 1 से 100 तक के अंकों का ज्ञान नहीं है। ये आंकड़े शिक्षा के क्षेत्र में यूपी सरकार की पोल खोलते हैं। राज्य में पढ़े-लिखे युवाओं के बीच 20 फीसदी की बेरोजगारी दर है और सरकार रोजगार के झूठे आंकड़े पेश कर रही है।

यूथ फॉर स्वराज राज्य ने सरकार से मांग की है कि रिक्त पदों पर भर्ती की प्रक्रिया तुरंत शुरू की जाए।

You may also like

Leave a Comment

हमारे बारे में

वेब पोर्टल समता मार्ग  एक पत्रकारीय उद्यम जरूर है, पर प्रचलित या पेशेवर अर्थ में नहीं। यह राजनीतिक-सामाजिक कार्यकर्ताओं के एक समूह का प्रयास है।

फ़ीचर पोस्ट

Newsletter

Subscribe our newsletter for latest news. Let's stay updated!