गौरी लंकेश की स्मृति में निशुल्क एम्बुलेंस सेवा

0

8 दिसंबर। स्वयंसेवी संगठन अखिल भारत श्रमिक केंद्र की कर्नाटक शाखा ने शहीद गौरी लंकेश की स्मृति में पिछले सप्ताह निशुल्क एम्बुलेंस सेवा शुरू की। फिल्म निर्देशक एवं स्व. गौरी लंकेश की बहन कविता लंकेश ने बेंगलुरु प्रेस क्लब पर हरी झंडी दिखाकर एम्बुलेंस सेवा का शुभारंभ कराया। इस मौके पर मानवाधिकार कार्यकर्ता अक्काई पद्मशाली, सामाजिक कार्यकर्ता चे बालू, कर्नाटक राज्य रैयत संघ के कार्यकारी अध्यक्ष वीरा संघैया, कन्नड़ पत्रकार नाज़िदा कौसर समेत अनेक जाने-माने लोग मौजूद थे।

निशुल्क एम्बुलेंस सेवा के बारे में बताते हुए इस मौके पर अखिल भारत श्रमिक केंद्र के पदाधिकारी कलीमुल्लाह ने कहा कि इस पहल के पीछे मकसद मुख्य रूप से उत्तर कर्नाटक और उत्तर भारत के प्रवासी श्रमिकों को संकट के समय फौरन चिकित्सा सुविधा मुहैया कराना है क्योंकि यही लोग कोविड के दौरान सबसे ज्यादा दुखी और परेशान हुए और आज भी ये लोग बेंगलुरु के महादेवपुरा इलाके में टिन के शेड के नीचे रह रहे हैं।

निशुल्क एम्बुलेंस सेवा शुरू होने के दूसरे दिन गौरी लंकेश की स्मृति में रक्तदान शिविर भी आयोजित किया गया जिसमें करीब दो सौ लोगों ने रक्तदान किया।

अखिल भारत श्रमिक केंद्र के कलीमुल्लाह कहते हैं कि गौरी लंकेश हमेशा कमजोर तबकों की आवाज बनी रहीं। फासिस्ट व सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ भी वह बराबर मुखर रहती थीं और इस सिलसिले में उन्होंने तरह तरह की धमकियों की कभी परवाह नहीं की और आखिरकार अपनी जान भी कुर्बान कर दी। उनकी शहादत को हम नहीं भुला सकते।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here