शहीद दिवस पर छात्रों का धरना और भूख हड़ताल

0

23 मार्च। शहीद दिवस के मौके पर नयी दिल्ली के मुखर्जी नगर में बत्रा सिनेमा के पास विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के छात्रों ने कोरोना महामारी से हुए नुकसान की भरपाई को लेकर केंद्र सरकार से गुहार लगाने के लिए धरना प्रदर्शन किया। युवा हल्ला बोल के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुपम और राष्ट्रीय महासचिव प्रशांत कुमार भी प्रतियोगी छात्रों का समर्थन करने के लिए धरना स्थल पर पहुँचे और युवाओं का मनोबल बढ़ाया।

आंदोलनकारी छात्रों की प्रमुख माँगें निम्नलिखित हैं-

# सभी भर्ती प्रक्रियाओं में दो प्रतिपूरक प्रयास दिये जाएं और समयसीमा में 2 वर्ष छूट दी जाए।

# सभी भर्ती परीक्षाओं में पूर्ण पारदर्शिता बरती जाए।

केंद्र और विभिन्न राज्यों की सरकारें विभिन्न पदों पर भर्तियों के लिए विज्ञापन निकालती हैं, किंतु इन भर्तियों के पूरा होने की कोई समयसीमा नहीं निर्धारित होती है, इन भर्तियों के पूरा होने में वर्षों बीत जाते हैं। जो छिटपुट मात्रा में भर्तियाँ आगे भी बढ़ती हैं, वो भी भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाती हैं। इन सब परिस्थितियों से गुजरकर छात्र कुंठित हो जाते हैं, और उनमें हताशा और निराशा जैसी मनोवृत्तियाँ जन्म लेती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here