Home Tags Emergency

Tag: Emergency

देश-दुनिया में स्वतंत्रता के प्रेरणा-स्रोत – आनंद कुमार

(दूसरी किस्त) लोकहितकारी लोकतंत्र की रचना का आवाहन अंतत: कांग्रेस, कांग्रेस सोशलिस्ट पार्टी, सोशलिस्ट पार्टी और प्रजा सोशलिस्ट पार्टी जैसे महत्त्वपूर्ण दलों को अपने जीवन के...

आपातकाल में किशन जी के साथ – दूसरी किस्त

— मनोज वर्मा — असल में जॉर्ज फर्नांडीज और किशन जी को लेकर मेरी गिरफ्तारी का मामला अत्यं/त गंभीर हो गया था। जॉर्ज से इंदिरा...

आपातकाल में किशन जी के साथ

— मनोज वर्मा — आपातकाल के विरोध के लिए संभावनाओं की तलाश में किशन पटनायक जी दिल्ली आ रहे थे। मैं सुबह-सुबह उनको लेने नई...

नीर-क्षीर विवेकी : न्यायमूर्ति हंसराज खन्ना

— इकबाल ए अंसारी — आपातकाल के दौरान जब इंदिरा गांधी की सरकार ने व्यक्ति की बुनियादी आजादी के अधिकार को छीन लिया था तो...

राहुकाल से लोकतंत्र के निकलने की शेषकथा

— जयराम शुक्ल — (तीसरी और अंतिम किस्त ) चाटुकारिता भी कभी-कभी इतिहास में सम्मान योग्य बन जाती है। आपातकाल  के उत्तरार्ध में यही हुआ। देशभर से...

इमरजेन्सी में झटका इस्तेमाल किया गया था, अब हलाल किया जा...

पैंतालीस वर्ष पहले 25/26 जून 1975 की प्रायः मध्यरात्रि में भारत के राष्ट्रपति ने एक उद्घोषणा की, “संविधान के अनुच्छेद 352 के खंड (1)...

जब जेपी की हुंकार से सिंहासन हिल उठा

— जयराम शुक्ल — कांग्रेस के अध्यक्ष देवकांत बरुआ का नारा ‘इंदिरा इज इंडिया’ गली-कूचों तक गूँजने लगा। इसी बीच मध्यप्रदेश में पीसी सेठी को...

अनुशासन के नाम पर यातना पर्व

— जयराम शुक्ल — आपातकाल पर मेरे दो नजरिए हैं, एक- जो मैंने देखा, दूसरा- जो मैंने पढ़ा और सुना। चलिए पहले से शुरू करते हैं। वो स्कूली...

छियालीस साल पहले का अनुभव और आज का अघोषित आपातकाल

— डॉ सुरेश खैरनार — छियालिस साल पहले 26 जून को एक घोषित आपातकाल लगा था। लेकिन पिछले सात साल से भी ज्यादा समय से अघोषित आपातकाल बदस्तूर...

क्या हमारी दूसरी आजादी कायम है?

— अनिल सिन्हा — आपातकाल को लेकर मौजूदा पीढ़ी को ज्यादा मालूम नहीं है। इसने भारतीय लोकतंत्र को एक नहीं भूलने लायक झटका दिया था।...

चर्चित पोस्ट

लोकप्रिय पोस्ट