गांधीमार्गी एसएन सुब्बाराव नहीं रहे

0

27 अक्टूबर। प्रख्यात गांधीवादी समाजसेवी डॉ एसएन सुब्बाराव (7 फरवरी 1929 – 27 अक्टूबर 2021) का बुधवार सुबह हृदय गति रुकने से 92 वर्ष की आयु में निधन हो गया। भाई जी के नाम संबोधित किये जानेवाले सुब्बाराव दशकों से राष्ट्रीय एकता, सौहार्द और रचनात्मक कामों के लिए समर्पित भाव से लगे रहे। युवा की तरह सदा उत्साही, ऊर्जावान और सक्रिय रहे सुब्बाराव ने बहुत सारे युवाओं को गांधी विचार में दीक्षित और रचनात्मक कामों में प्रशिक्षित किया। युवाओं के प्रशिक्षण शिविर आयोजित करते रहना उनका एक खास काम था। उनकेे संपर्क में आए बहुत से युवा आज अनेक रचनात्मक कामों और अनेक आंदोलनकारी समूहों में शामिल हैं।

सुब्बाराव ने पहला गांधी आश्रम चंबल के जौरा गांव में ‘बागियों’ के लिए खोला था और इसमें उन्हें कामयाबी भी मिली जब वह 1972 में 600 से अधिक डाकुओं का आत्मसमर्पण करा सके। गांधी और विनोबा से प्रेरित सुब्बाराव त्याग, निष्ठा, समर्पण, समाज सेवा और सौहार्द के एक प्रतीक बन चुके थे। समता मार्ग की श्रद्धांजलि।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here