22 नवंबर को लखनऊ में होगी किसान-मजदूर महापंचायत

0

10 नवंबर। संयुक्त किसान मोर्चा की एक विज्ञप्ति के अनुसार, 22 नवंबर को लखनऊ में एसकेएम के बैनर तले एक विशाल किसान-मजदूर महापंचायत का आयोजन होगा।

28 नवंबर को एसएसकेएम के बैनर तले मुंबई में एक और विशाल किसान-मजदूर महापंचायत का आयोजन किया जाएगा। देश भर में एक बार फिर किसान आंदोलन गति पकड़ रहा है।

26 नवंबर को ऐतिहासिक किसान आंदोलन के एक वर्ष पूरा होने को किसान दिल्ली की सीमाओं पर और देश भर में समारोहपूर्वक मनाएंगे। हर राज्य में बड़े पैमाने पर महापंचायतों और सभाओं आदि के साथ इस दिन को मनाने की तैयारी चल रही है।

29 नवंबर से संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान प्रतिदिन 500 किसान ट्रैक्टर ट्रॉलियों में संसद तक मार्च निकालेंगे।

फिरोजपुर में लखीमपुर जैसा कांड

लखीमपुर खीरी नरसंहार के समानांतर एक नृशंस कृत्य में, फिरोजपुर में शिरोमणि अकाली दल नेताओं के द्वारा किसानों पर गोलियां चलायी गयीं, और वाहन से पांच किसानों को कुचल दिया गया। शिरोमणि अकाली दल की सांसद हरसिमरत कौर बादल, जो एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए वहां गयी थीं, के सामने अपना सवाल रखने के लिए किसान मौके पर जमा हुए थे। श्रीमती कौर ने किसानों से कार्यक्रम होने देने के लिए कहा, और बाद में उनसे मिलने का वादा किया। हालांकि, बाद में जब किसानों ने शिअद नेताओं से मिलने की कोशिश की, तो उन्हें मना कर दिया गया और शिअद के पूर्व विधायक नोनी मान ने उन्हें वाहन से कुचलने की कोशिश की। एक किसान हरनेक सिंह महिमा को वाहन ने एक किलोमीटर से अधिक दूरी तक घसीटा। शिअद नेताओं ने किसानों पर फायरिंग भी की। एसकेएम ने इस गंभीर घटना की निंदा करते हुए हत्या के प्रयास के लिए शिअद नेताओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की है। घटना में न्याय की मांग को लेकर कल फिरोजपुर डीसी कार्यालय से विरोध मार्च निकाला जाएगा।

हरियाणा के हांसी में धरना जारी

हांसी में एसपी कार्यालय के बाहर अनिश्चितकालीन धरना बुधवार को तीसरे दिन में प्रवेश कर गया, जिसमें हजारों किसान प्रशासन के विरोध में शामिल हो गये हैं। इस बीच हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने किसानों की मांगों को मानने से इनकार कर दिया है।

एमएससी पर खरीद के लिए प्रदर्शन

देश के कई हिस्सों में किसान एमएसपी पर फसलों की खरीद करने की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। जयपुर में बाजरे की खरीद को लेकर किसानों ने धरना दिया, जबकि हरियाणा के करनाल में किसानों ने धान खरीद को लेकर प्रदर्शन किया। प्रयागराज में किसानों ने विरोध प्रदर्शन किया और जरी बिजलीघर से गल्ला मंडी तक मार्च निकाला। किसानों ने 9 सूत्री मांगपत्र प्रस्तुत किया, जिसमें ₹1940 प्रति क्विंटल पर धान की खरीद और अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त करना शामिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here