जेपी जयंती समारोह आज

0

10 अक्टूबर। जेपी फाउंडेशन आज 11 अक्तूबर, 2021 को स्वतंत्रता आंदोलन में अगस्त क्रांति के नायक तथा स्वतंत्र भारत में इंदिरा गाँधी के अधिनायकवाद से लोकतंत्र की रक्षा करनेवाले लोकनायक जयप्रकाश नारायण की 119वीं जयंती का समारोह आयोजित कर रहा है। इस समारोह में 1974 -75 के जेपी आंदोलन के नेता तथा दिल्ली स्थित गांधी शांति प्रतिष्ठान के अध्यक्ष श्री कुमार प्रशांत का ‘भारतीय लोकतंत्र के समक्ष चुनौतियाँ तथा संभावित समाधान’ विषय पर लोकनायक जयप्रकाश नारायण वार्षिक स्मृति व्याख्यान होगा। समारोह में समाज के विभिन्न क्षेत्रों में विशिष्ट योगदान देने के लिए सर्वोच्च न्यायालय के प्रसिद्ध वकील श्री प्रशांत भूषण, इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज़ के अध्यक्ष डॉ जॉर्ज मैथ्यू तथा प्रसिद्ध पत्रकार श्री अजीत अंजुम को इस वर्ष का ‘लोकनायक जयप्रकाश नारायण सम्मान ‘ दिया जाएगा।

समारोह की अध्यक्षता प्रसिद्ध समाजशास्त्री प्रो आनंद कुमार करेंगे। समारोह का आयोजन गूगल मीट के द्वारा ऑनलाइन किया जाएगा तथा फेसबुक पर भी प्रसारण होगा। ऑनलाइन जयंती समारोह में देश के विभिन्न हिस्सों से जेपी आंदोलन जुड़े रहे विद्यार्थी नेता, पत्रकार, बुद्धजीवी, समाजसेवी तथा नागरिक अधिकार आंदोलनों से जुड़े लोग शामिल होंगे।

जेपी फाउंडेशन की स्थापना लोकनायक जयप्रकाश नारायण की 8 अक्तूबर, 1979 को मृत्यु के बाद देश के शिक्षाविदों और बुद्धिजीवियों ने उनके आदर्शों पर आधारित समाज निर्माण तथा सम्पूर्ण क्रांति के विचारों को युवाओं में फैलाने के उदेश्य से की थी। फाउंडेशन को बनाने से लेकर उसको बढ़ाने में कई शिक्षाविदों के साथ साथ जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के प्रो विवेकानंद, प्रो आनंद कुमार तथा प्रो प्रमोद कुमार आदि का विशेष योगदान रहा है। फाउंडेशन निरतंर जेपी के विचारों तथा देश की समसामयिक सामाजिक, आर्थिक तथा राजनैतिक विषयों पर व्याख्यान, सेमिनार आदि आयोजित करता रहा है और युवाओं तथा विद्यार्थियों के बीच जेपी के विचारों के अनुरूप राजनैतिक चेतना विकसित करने का प्रयास करता रहा है। इसके लिए समाज के विभिन्न क्षेत्रों में कार्यरत सरोकारी नागरिकों को हर वर्ष सम्मानित करता रहा है ताकि युवापीढ़ी को प्रेरणा मिल सके।

पूर्व में यह सम्मान जनकवि बल्ली सिंह चीमा, विस्थापितों की लड़ाई लड़ रही नर्मदा आंदोलन की अगुवा मेधा पाटकर, एडीआर के मुखिया जगदीप चोकर जैसी जानी-मानी हस्तियों को दिया जा चुका है। पिछले वर्ष 2020 में प्रो राजकुमार जैन, बैजवाडा विल्सन तथा अरविंद अंजुम को यह सम्मान दिया गया था। प्रोफेसर आनंद कुमार और प्रोफेसर प्रमोद यादव पूर्व में इस फाउंडेशन के अध्यक्ष रह चुके है। वर्तमान में इसके अध्यक्ष दिल्ली विश्वविद्यालय के प्राध्यापक और समाजवादी शिक्षक मंच के डॉ शशि शेखर प्रसाद सिंह हैं और डॉ संत प्रकाश सचिव हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here